स्वराज ख़बर

आज की ताज़ा ख़बर

भोपाल में 15 जून से 15 अगस्त तक 2 महीने का मंथन अभियान शुरू करेगी प्रदेश कांग्रेस

भोपाल
 मध्य प्रदेश के चुनावों में लगातार हार को देखते हुए कांग्रेस अब अपने संगठन को मजबूत करने आगामी 10 सालों की कार्य योजना बनाएगी. इसके लिए कांग्रेस 15 जून से मंथन अभियान शुरू करने जा रही है. इसमें पार्टी के तमाम वरिष्ट नेता ब्लॉक स्तर तक जाएंगे और पार्टी पदाधिकारी से लेकर पंचायत जिला जनपद के पदाधिकारी से पार्टी को मजबूत बनाने के सुझाव लेंगे. कांग्रेस प्रदेश कार्यालय में बुलाई गई लोकसभा उम्मीदवारों और आला नेताओं की समीक्षा बैठक में इसका निर्णय लिया गया.

15  जून से अगले चुनाव की तैयारी में कांग्रेस

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव और मध्य प्रदेश के प्रभारी जितेंद्र सिंह ने समीक्षा बैठक के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि 'समीक्षा बैठक में मिले फीडबैक के बाद निर्णय लिया गया है कि 4 जून को चुनाव के नतीजे आने के बाद कांग्रेस 15  जून से अगले आने वाले चुनाव की तैयारी में जुट जाएगी. कांग्रेस मंथन कार्यक्रम की शुरुआत कर रही है. यह कार्यक्रम 15 जून से शुरू होगा. इसमें पार्टी के सभी वरिष्ठ नेता ब्लॉक स्तर तक जाएंगे और बूथ, मंडल और सेक्टर से लेकर जनपद पंचायत, नगर पालिका के सदस्यों से बात करेंगे. इसमें सुझाव लिए जायेंगे कि कैसे संगठन को और मजबूत बनाया जा सकता है.'

मध्य प्रदेश के विकास को आगे बढ़ाने के लिए क्या पार्टी की कार्य योजना होना चाहिए. जमीनी स्तर से सुझाव लेने के बाद प्रदेश स्तर पर अलग-अलग वर्कशॉप होगी. इसमें तय किया जाएगा कि संगठन को मजबूत करने के लिए क्या-क्या बदलाव करने की जरूरत है. वर्तमान परिस्थितियों में पार्टी से कैसे युवा महिला और विभिन्न वर्ग के लोगों को जोड़ा जाए. अगले 10 साल के लिए मध्य प्रदेश में कांग्रेस का रोडमेप बनाया जाएगा. यह कार्यक्रम 15 जुलाई तक चलेगा.

उम्मीदवारों को संगठन से कोई नाराजगी नहीं

कांग्रेस प्रदेश प्रभारी जितेंद्र सिंह ने कहा की 'समीक्षा बैठक के दौरान चुनाव मैदान में उतरे लोकसभा उम्मीदवारों ने अपनी बात रखी. किसी को भी संगठन या स्थानीय स्तर पर पार्टी नेताओं से कोई नाराजगी नहीं है. सभी नेताओं ने एकजुट होकर चुनाव लड़ा. किसी कि कोई नाराजगी नहीं और जो खिलाफत करने वाले थे. वह सभी चुनाव के दौरान ही पार्टी छोड़कर चले गए.'

सरकारी मशीनरी के दुरुपयोग का आरोप

जितेंद्र सिंह ने आरोप लगाया कि चुनाव में राज्य सरकार और केंद्र सरकार ने सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग किया. इलेक्शन कमीशन, प्रशासन ने बीजेपी के कार्यकर्ता के रूप में काम किया. पूरा चुनाव जाति, धर्म, क्षेत्र के आधार पर प्रयोग करके चुनाव जीतने के लिए किया, लेकिन मध्य प्रदेश की जनता ने बीजेपी का असली चेहरा देखा है. उन्होंने कहा कि चुनाव में कांग्रेस ने अच्छा परफॉर्मेंस किया है. मध्य प्रदेश और पूरे देश में चौंकाने वाले नतीजे आने वाले हैं.