स्वराज ख़बर

आज की ताज़ा ख़बर

नीलगाय को बचाने में सोनकच्छ में पलटी बस, 10 यात्री घायल

सोनकच्छ (देवास)
इंदौर-भोपाल हाईवे पर ग्राम रोलु पिपलिया फाटे के समीप नील गाय को बचाने के चक्कर में एक स्लीपर बस पलटी खा गई, जिसमें 10 लोग घायल हुए। घायलों को सोनकच्छ सिविल अस्पताल में प्राथमिक उपचार कर देवास रेफर किया गया है। बस में करीब 50 यात्री सवार थे। दुर्घटना में नील गाय भी घायल हो गई।

वर्मा ट्रैवल्स जबलपुर से इंदौर जा रही बस क्रमांक एमपी 04 पीए 3877 नील गाय को बचाने के चक्कर में रोलु पिपलिया फाटे के समीप पलटी खा गई। बस करीब 20 मीटर दूर जाकर बिजली के पोल से टकराकर रुक गई। घटना की सूचना राहगीरों ने हाईवे पर तैनात डायल 100 को दी। इसके बाद डायल 100 में तैनात पुलिसकर्मी तत्काल घटना स्थल पहुंचे, जहां उन्होंने बस के कांच फोड़कर यात्रियों को निकाला। डायल 100 ने सोनकच्छ थाने पर सूचना दी, जिसके बाद टीआई नीता देअरवाल दल बल के साथ घटना स्थल पहुंची व घायलों को एम्बुलेंस से अस्पताल पहुंचाया। डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार कर देवास रेफर किया।

ये लोग हुए घायल
अस्पताल के एमएलसी रजिस्टर के मुताबिक, 10 लोग घायल हुए हैं, जिन्हें देवास रेफर किया गया है। इसमें लीलावती विश्वकर्मा (60) निवासी तेंदूखेड़ा, चिंटू पासवान, नरेंद्र साहू निवासी बरेली, प्रेम पटेल रायसेन, राजकुमारी तिवारी, नरबदी बाई, प्रेम नारायण तिवारी निवासी देवास, सोनू निवासी बड़वानी, हर्षित धाकड़ निवासी बरेली शामिल है।

तीन बजे ही हुआ था विद्युत प्रदाय बंद, वरना बड़ा हादसा हो जाता
दुर्घटना के बाद बस पलटी खाकर विद्युत पोल से टकरा गई, जिसके कारण वह रुक गई। गनीमत यह रही कि, सिंचाई के उपयोग में आने वाली एलटी लाइन रात तीन बजे बंद कर दी गई थी। अगर लाइन चालू रहती तो बस में आग लग सकती थी। पोल के पास ही ट्रांसफार्मर लगा हुआ था, गनीमत रही कि गाड़ी वहां तक नही पहुची।

घटना की जानकारी मिलते ही ढाबा कर्मचारी पहुंचे
घटना स्थल से करीब सात किमी दूर ग्राम पिलवानी में एक ढाबे पर बस ने सुबह 4 बजे के लगभग स्टॉप दिया था। जहां बस चालक सहित अन्य सवारियों ने चाय-नाश्ता किया था। इसके बाद बस इंदौर के लिए रवाना हुई और ग्राम रोलु पिपलिया के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई। सूचना पर ढाबा कर्मचारी भी मौके पर पहुंचे।

कुछ यात्री दूसरी बस से रवाना हुए तो कुछ को परिजन लेने आए
घटना में मामूली चोटिल व घायल नहीं हुए यात्री वर्मा ट्रैवल्स की एक अन्य बस में सवार होकर इंदौर के लिए रवाना हुए। जिन यात्रियों के सामान नहीं निकाले जा सके, उनके नाम-नंबर पुलिस ने लिखे हैं। उन यात्रियों का सामान इंदौर कंपनी के डिपो भेज दिया जाएगा। कुछ यात्रियों के परिजन इंदौर से लेने। स्लीपर बस में करीब 50 यात्री थे। उधर, वन विभाग व पशु चिकित्सक टीम घायल नील गाय को उपचार के लिए वन विभाग के रेस्ट हाउस ले गई।

घटना में बिजली कर्मचारी भी हुआ घायल
बिजली का खंबा गिरने की जानकारी मिलते ही आउटसोर्स कर्मचारी रवि पुत्र मांगीलाल परिहार अपने साथी के साथ मौके पर पहुंचे। वे खंभे पर चढ़कर तार को अलग करने का प्रयास कर रहे थे, इसी दौरान उनका पैर फिसला और 20 फीट नीचे जा गिरे। उके हाथ-पैर में चोट आई है। उन्हें देवास रेफर किया गया है।

पुलिस की मदद के लिए पहुंचे लोग
घटना की जानकारी मिलते ही थाना प्रभारी नीता देयरवार, आरक्षक विकास सिंह सहित थाना बल व 100 डायल क्रमांक 6, 14 और 20 नंबर के कर्मचारी भी मौके पर पहुंच गए। पास ही में मुरलीवाला छप्पनभोग ढाबा संचालक शुभम राठौर अपने कर्मचारियों के साथ पहुंचे जिन्होंने घायलों को बस से बाहर निकाला।