स्वराज ख़बर

आज की ताज़ा ख़बर

पुष्कर धरोहर योजना से पुरानी जल संरचना को मिला नया जीवन

स्टाप डेम की 8 हजार घन मीटर की जल क्षमता बढ़ी

भोपाल

सफलता की कहानी

सतना जिले में पंचायत एवं ग्रामीण विकास की पुष्कर धरोहर योजना ने कई पुरानी जल संरचनाओं को थोड़ी राशि की व्यवस्था करके नया जीवन दिया है। टूटी-फूटी जल संरचनाओं, स्टाप डेम में जहाँ बरसात का पानी ठहरता नहीं था वहीं अब पुनरूद्धार किये गये स्टाप डेम अप और डाउन स्ट्रीम में पानी से लबालब हैं।

मैहर जनपद पंचायत की पिपरा कला ग्राम पंचायत ने पुष्कर धरोहर योजना में अपने गाँव की पुरानी जल संरचना नाले पर बने स्टाप डेम को शामिल किया। इसके लिये पुष्कर धरोहर योजना से स्टाप डेम को पुनर्जीवन देने के लिये 5 लाख रूपये की राशि भी मंजूर की गई। स्टाप डेम के पुनर्जीवन कार्य से जुड़े उदय स्व-सहायता समूह के सदस्य किसानों ने स्टाप डेम के कट चुके बंड, टूट चुकी वेस्ट वियर सुधारी और अपस्ट्रीम में जमी गाद को निकालकर मेहनत की।

स्टाप डेम की एप्रान, विगंवाल और मेनवाल भी क्षतिग्रस्त हो चुकी थी। इनकी रिपेयरिंग कर कड़ी शटर्स लगाये गये। स्व-सहायता समूह के सदस्य राजखेलावन चौधरी और कुबेर मिश्रा बताते हैं कि धरोहर योजना से स्टाप डेम को पुनर्जीवन मिला है। अब स्टाप डेम बरसात में पानी से लबालब है। जीर्णोद्धार से स्टाप डेम में लगभग 8 हजार घन मीटर जल संग्रहण क्षमता बढ़ी है और 5500 हेक्टेयर क्षेत्र में अतिरिक्त सिंचाई सुविधा का विस्तार हुआ है।