स्वराज ख़बर

आज की ताज़ा ख़बर

सरकार आने पर भ्रष्टाचारियों को उल्टा लटकाकर सीधा करेंगे : शाह

रायपुर

भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार के खिलाफ केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के सानिध्य में शनिवार को आरोप पत्र जारी किया। इस अवसर पर प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर भ्रष्टाचार की सीरीज चलाने का आरोप लगाते हुए श्री शाह ने खुली चेतावनी दी है कि कांग्रेस की प्रदेश सरकार का भ्रष्टाचार अभी पूरा सामने नहीं आया है, वह तो जब भाजपा की सरकार छत्तीसगढ़ में आएगी और भ्रष्टाचारियों को उल्टा लटकाएगी, तब भ्रष्टाचार का पूरा आँकड़ा और सच सामने आएगा।

श्री शाह ने प्रदेश की पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के 15 वर्षों के कार्यकाल की उपलब्धियों और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार को 9 वर्षों सेवा-सुशासन-गरीब कल्याण के कार्यक्रमों का ब्योरा देते हुए प्रदेश की भूपेश सरकार को छोटी आबादी की सबसे बड़ी भ्रष्ट सरकार बताते हुए जमकर निशाना साधा। राजधानी के पं. दीनदयाल उपाध्याय आॅडिटोरियम में आयोजित कार्यक्रम में श्री शाह ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव सामान्य चुनाव नहीं है, यह चुनाव छत्तीसगढ़ की सुनहरे भविष्य को आधारशिला रखने वाला चुनाव है।

केंद्रीय गृह मंत्री श्री शाह ने मिशन आदित्य की लॉन्चिंग की प्रदेशवासियों को बधाई देते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में पाँच सालों से वादाखिलाफी, भ्रष्टाचार और घपलों-घोटालों की सरकार चल रही है। भाजपा ने उस सरकार के खिलाफ जनजागृति लाने के लिए भाजपा ने एक आरोप पत्र तैयार किया है। छत्तीसगढ़ में भाजपा की पूर्ववर्ती राज्य सरकार के 15 वर्षों के कार्यकाल की सराहना करते हुए श्री शाह ने कहा कि श्रद्धेय अटलजी ने जिन सपनों के साथ छत्तीसगढ़ राज्य का गठन किया था, उन सपनों को साकार करने का वह कार्यकाल था। प्रदेश के पहले चुनाव के बाद डॉ. रमन सिंह के मुख्यमंत्रित्व में छत्तीसगढ़ ने 15 साल तक विकास की अविरल यात्रा की। श्री शाह ने कहा कि सन 2014 से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में चथ्तीसगढ़ को विकसित करने के अनेक प्रयास हुए। लेकिन 2018 में छत्तीसगढ़ में बनी कांग्रेस की सरकार ने प्रधानमंत्री श्री मोदी का साथ देने के बजाय छत्तीसगढ़ में लूट-खसोट, भ्रष्टाचार और घपलों-घोटालों की सरकार बनाई, जिसके कारण छत्तीसगढ़ के विकास पर सवालिया निशान लग गया है। छत्तीसगढ़ की जनता ने हमेशा भाजपा को अपना आशीर्वाद दिया है। श्री शाह ने विश्वास व्यक्त किया कि 2023 के विधानसभा चुनाव में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने के बाद 2024 के लोकसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ की सभी 11 लोकसभा सीटें भाजपा जीतेगी और डबल इंजन की सरकार प्रदेश को विकास की ऊँचाई पर ले जाएगी।

केंद्रीय गृह मंत्री श्री शाह ने कहा कि कांग्रेस की भूपेश सरकार ने घपले-घोटाले करके और छत्तीसगढ़ को एक परिवार का एटीएम बनाकर विकास के मार्ग से भटका दिया है। अब छत्तीसगढ़ की जनता को तय करना है कि हजारों करोड़ रुपए का घोटाले करने वाली भूपेश बघेल की सरकार चाहिए या विकास का रास्ता तय करने वाली भाजपा की सरकार चाहिए? छत्तीसगढ़ को तय करना है कि आदिवासियों के अधिकारों की रक्षा के नाम पर धर्मांतरण कराने वाली सरकार चाहिए या फिर आदिवासियों की संस्कृति को एक बार फिर से सुरक्षित व संवर्धित करने वाली सरकार चाहिए? छत्तीसगढ़ को तय करना है कि पिछड़ा वर्ग समाज के विकास के लिए प्रधानमंत्री श्री मोदी ने जो योजनाएँ शुरू की हैं, उन्हें धरातल पर साकार करने वाली भाजपा की सरकार चाहिए या पिछड़ा वर्ग के कल्याण की योजनाओं में हजारों-करोड़ों रुपए का घपला करने वाली कांग्रेस की सरकार चाहिए? छत्तीसगढ़ को तय करना है कि युवाओं से रोजगार और बेरोजगारी भत्ता देने के झूठे वादे करके कौशल विकास के नाम पर दुबई में जुँए की आॅनलाइन ट्रेनिंग देकर महादेव एप को संरक्षण देने वाली भ्रषटाचार करने वाली सरकार चाहिए या युवाओं के सुविचारित विकास करने वाली सरकार चाहिए? युवाओं को रोजगार चाहिए या जुँए की लत? भ्रष्टाचार, जातिवाद, परिवारवाद और दिल्ली दरबार के दरबारी छत्तीसगढ़ का भला नहीं कर सकते।

केंद्रीय गृह मंत्री श्री शाह ने कहा कि छत्तीसगढ़ को श्रद्धेय अटलजी ने बनाया, भाजपा ने 15 वर्षों के अपने शासनकाल में सँवारा और अब छत्तीसगढ़ को भ्रष्टाचार व कुसासन से भाजपा ही मुक्ति दिलाएगी। श्री शाह ने छत्तीसगढ़ में भाजपा शासनकाल की उपलब्धियों की चर्चा करते हुए कहा कि जब प्रदेश में भाजपा की पहली बार सरकार बनी, तब सबसे बड़ा प्रश्न यह था कि राशन घोटालों पर लगाम कैसे लगे? डॉ. रमन सिंह ने घर-घर राशन पहुँचाने की पद्धति को साकार किया। जबकि भूपेश सरकार ने प्रधानमंत्री श्री मोदी की सरकार द्वारा भेजे जाने वाले मुफ्त अनाज तक को छीनकर बेचने का काम किया। श्री शाह ने राष्ट्रीय जाँच एजेंसियों के काम पर की जा रही टिप्पणियों पर कहा कि अगर किसी ने भ्रष्टाचार किया है तो एजेंसी अपना काम जरूर करेगी। मनरेगा के कार्यदिवस 50 दिन बढ़ाने वाली छत्तीसगढ़ की भाजपा सरकार पहली सरकार थी। मातृत्व अवकाश देने वाली, पंचायतों में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण देने वाली, नगरीय निकायों में आरक्षण देने वाली भाजपा की सरकार ही थी। शाह ने मुख्यमंत्री बघेल को याद दिलाया कि छात्रों को नि:शुल्क लैपटॉप और टेबलेट भाजपा सरकार दे रही थी, उसमें भी कांग्रेस की सरकार ने घोटाला किया। श्री शाह ने कहा कि मोदी जी पूरे देश के प्रति एक सामान भाव रखते है। कांग्रेसनीत यूपीए की केंद्र सरकार के 10 साल के शासनकाल में छत्तीसगढ़ को सिर्फ 77,800 करोड़ रुपए मिले, जबकि प्रधानमंत्री श्री मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने पिछले 9 साल में 3,02,429 करोड़ रुपए छत्तीसगढ़ को दिए।

केंद्रीय गृह मंत्री श्री शाह ने केंद्र सरकार के 9 वर्षों की उपलब्धियों का विवरण देते हुए मुख्यमंत्री बघेल को चुनौती दी कि वे यूपीए के 10 और भाजपानीत एनडीए के 9 वर्षों के कामों का लेखा-जोखा जनता के सामने रखें। छत्तीसगढ़ में भाजपा के 15 वर्ष के काम के मुकाबले भूपेश सरकार ने एक तिहाई का एक तिहाई भी काम भी किया हो तो बताएँ। श्री शाह ने कहा कि कांग्रेस ने अपने नेताओं और जनप्रतिनिधियों को लूट मचाने की खुली छूट दे रखी है। भूपेश बघेल ने कलेक्टर को भ्रष्टाचार के पैसे कलेक्ट करने वाला बनाकर रख दिया है। कांग्रेस के किए गए वादों की चर्चा करते हुए श्री शाह ने कहा कि किसी भी वादे पर प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने काम नहीं किया। चरणपादुका वितरण बंद करने और 20 लाख प्रधानमंत्री आवास रोकने के लिए भी प्रदेश सरकार को आड़े हाथों लेते हुए केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि शराब घोटाला सिर्फ 2160 करोड़ का नहीं, बल्कि हजारों करोड़ रुपए का है। यह 2160 करोड़ रुपए तो इस घोटाले की टिप है। पूर्ण शराबबंदी के नाम पर प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने क्या किया? डॉ. रमन सिंह के मुख्यमंत्रित्व वाली भाजपा सरकार तो राज्य में चरणबद्ध शराबबंदी कर रही थी पर भूपेश सरकार ने तो पूरी उल्टी गंगा ही बहा दी। प्रदेश सरकार ने भ्रष्टाचार की सारी हदें लांघ दी हैं। अब प्रदेश सरकार अपने झूठे दावों को लेकर चाहे जितना प्रचार कर ले, परंतु प्रदेश की जनता अब कांग्रेस के चरित्र को समझ गई है।